विंडोज एक्सपी क्या हैं? इसकी विशेषताएं, विंडोज के साथ कार्य,और हार्डवेयर क्या है।

Window XP in Hindi – हेल्लो दोस्तों नमस्कार ! आज की इस पोस्ट में आपको विंडोज एक्सपी के वारे में विस्तार से जानकारी देगे । इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप विंडोज के बारे में ठीक से समझ पायेगे । windows xp एक  Operating System होता है जिसे कि Microsoft Corpaoration ने design किया था कंप्यूटर users के लिए । तो चलिए यह पोस्ट शुरू करते है ओर जानते हैं – window xp kya hai

 

Window XP (विंडोज एक्सपी) क्या हैं? (What is Windows XP)

Window XP in Hindi – windows xp एक  Operating System होता है जिसे कि Microsoft Corpaoration ने design किया था कंप्यूटर users के लिए. अगर आप बहुत टाइम से Computer पर काम कर रहे है तो आप जरुर विंडोज XP  को अच्छे से परिचित होंगे।

ऑपरेटिंग सिस्टम एक ऐसा सॉफ्टवेयर प्रोग्राम है जो कंप्यूटर की डिस्क पर  संग्रहित (store) हो जाता है और कंप्यूटर का स्विच ऑन करने पर मेमोरी में स्वत: ही आ जाता है तथा मानव व हार्डवेयर के मध्य पर संपर्क स्थापित करता है ऑपरेटिंग सिस्टम अन्य सभी एप्लीकेशन प्रोग्राम का भी संचालन करता है।

यह ग्राफिकल यूजर इंटरफेस प्रदान करता है जिससे निर्देशक को टाइप करने की असुविधा लगभग समाप्त हो जाती है ऑपरेटिंग सिस्टम निर्देशों को सचित्र रूप में प्रदर्शित करता है तथा विभिन्न एप्लीकेशन प्रोग्राम को आयताकार बॉक्स में प्रदर्शित करता है अतः इसका नाम विंडोज रखा गया है।

इसके विभिन्न संस्करण 

  • विंडोज 95 पर्सनल कंप्यूटर्स के लिए विकसित किए गए विंडोज ऑपरेटिंग सिस्टम का अपने आप का सर्वाधिक प्रचलित संस्करण था जो अगस्त 1995 में अमेरिका का माइक्रो टास्किंग ऑपरेटिंग सिस्टम था  जिसमें नेटवर्क फैक्स  तथा मल्टीमीडिया की सुविधा भी जोड़ी जा सकती थी यह इस प्रकार तैयार किया गया था कि व्यापारिक तथा व्यक्ति का दोनों ही प्रकार के कार्यों में कुशल तथा अकेले पीसी अथवा नेटवर्क में समान रूप से उपयोगी था।
  • विंडोज 98 इस श्रृंखला का अगला महत्वपूर्ण ऑपरेटिंग सिस्टम था जो विंडोज 95 को सुधार कर और उसमें इंटरनेट तथा ईमेल से संबंधित सुविधाएं जोड़कर तैयार किया गया है इस समय यह दुनिया का सबसे अधिक प्रयोग किया जाना वाला ऑपरेटिंग सिस्टम है यह विंडोज 95 से पूरी तरह Compatitable है दोनों में कोई विशेष अंतर नहीं है केवल उनकी स्केनर तथा डायलॉग बॉक्स में जोड़ा थोड़ा सा अंतर है जिससे आप स्वयं समझ सकते हैं।
  • विंडोज 98 के बाद इसमें अन्य विस्तारित संस्करण विंडो 2000 ME में तथा विंडोज एक्सपी प्रचलन में आ चुके हैं लेकिन कई कारणों से इतने  लोकप्रियता प्राप्त नहीं कर सके हैं और विंडोज 98 अभी भी सबसे अधिक लोकप्रिय बना हुआ है विंडोज 98 ऑपरेटिंग सिस्टम को अपने वर्तमान रूप में आने से पहले विकास की एवं लंबी प्रक्रिया से गुजरना पड़ा।

विंडोज के विभिन्न संस्करणों को आप इस प्रकार से समझ सकते है।

Version              Year                 Features 

Windows 1.0                1985         GUI Application पर आधारित Windows का 1st version 

Windows 1.2                1987         Overlapping Windows

Windows 2.10              1987         Vartual Machine 

Windows 3.0                1990         Facility of Programe Managger/file 

Windows 3.1                1922         With Multimedia,Network,MS-mailcapacity

Windows 3.11               1993        32 bits Networking,file system 

Windows 95                  1995        32 bits OS, Maltitasking, Networking Long name etc

Windows 98                  1998         Internet Facility (for work)

Windows 2000 ME       2000         Networking Facility 

Windows XP                 2004         Networking anf other facility

Windows Vista              2007         With multi facility

 

विंडोज एक्सपी  (Windows XP ) की विशेषताएं 

विंडोज एक्सपी की विशेसताये – विंडोज 98/ME/xp   तथा उनका पूर्ववर्ती  संस्करण विंडोज 95 सभी विशेषताओं से भरी हुई है ऑपरेटिंग सिस्टम में इनमें अधिकांश प्रचलित पीसी ऑपरेटिंग सिस्टम को शामिल किया गया है  इनके अलावा इसमें बहुत सी ऐसी विशेसताये भी है, जो दूसरी ऑपरेटर सिस्टम में उपलब्ध नहीं है,  विंडोज के पिछले संस्करण की आवश्यकताओं में भी सुधार किया गया है यहाँ पर हम कुछ चुनावी विशेषताओं की जानकारी दे रहे हैं।

1. New Interface – 

विंडोज  95/98/ME/xp  अब प्रयोग करने में कहीं अधिक सरल हो गए हैं इनमें टास्कबार तथा स्टार्ट बटन शामिल किए गए हैं जिनकी सहायता से आप कोई भी प्रोग्राम कभी भी चला सकते हैं खाली या दस्तावेज ढूंढ सकते हैं तथा उपलब्ध सुविधाओं का प्रयोग कर सकते हैं प्रोग्राम के बीच में किसी दूसरे प्रोग्राम में जाना वैसा ही है जैसे आप टीवी पर चैनल बदलते हैं पिछले संस्करणों के विपरीत विंडोज 98 में माउस के दोनों बट्नों का पूरा उपयोग किया जाता है।

2. Long File Name – 

विंडोज 95/98/ME/xp में फाइलों के नाम 255 चिन्ह तक हो सकते हैं, जिनके बीच में रिक्त (Space) भी शामिल हो सकते हैं, लेकिन विशेष चिन्ह जैसे- /?”<> आदि शामिल नहीं किया जा सकते यदि विंडोज 98 द्वारा बनाई गई है फाइलों का प्रयोग ऐसे दूसरे कंप्यूटर्स या साधन द्वारा किया जाता है, जो लंबी फाइल नाम की सुविधा नहीं देते, तो यह अपने आप ही इन नाम को 8.3 के सुविधाजनक रूप में बदल देता है।

3. Windows Expolorer – 

पूर्ववती संस्करणों के प्रोग्राम मैनेजर तथा फाइल मैनेजर प्रोग्राम की जगह विंडोज विंडोज 95/98/ME/xp में विंडोज एक्सप्लोर एक शक्तिशाली प्रोग्राम है| जो आपकी फाइल, ड्राइवर तथा नेटवर्क संबंधों की देखभाल एवं व्यवस्था करता है यद्यपि विंडोज एक्सपी में विंडोज एक्सप्लॉरर उपलब्ध नहीं है उसमें इसके बदले My Computer से कार्य किया जाता है।

4. 32 bits Multitasking –

विंडोज 98/ME/xp  सभी 32 बीट फाइलों के लिए Preemiptive Multitasking का उपयोग करते हैं जिससे उपयोग कर्ता अपने कई प्रोग्राम को एक साथ और ज्यादा सफलता से चला सकता है तथा कम समय में अधिक कार्य कर सकता है विंडोज 3.1 में को ऑपरेटिव मल्टी टास्किंग का प्रयोग किया जाता है जिसमें एक प्रोग्राम द्वारा सीपीयू पर एक अधिकार या कब्जा कर लेने की संभावना रहती है विंडो 95 तथा बाद के संस्करण में ऐसी कोई संभावना नहीं है और सभी प्रोग्राम आराम से चलते रहते हैं।

5. Modifacation –

विंडोज  95/98/ME/xp  में अधिक तेज वीडियो गेमिंग तथा साउंड फाइलों को चलाने की अच्छी क्षमता है यहां तक कि MS Docs आधारित खेल भी खेल सकते हैं इससे आप अपने पीसी के अधिक आनंद ले सकते हैं।

6. Compatibility –

कंपैटिबिलिटी विंडोज 95/98/ME/xp  पुरानी एमएस डॉस तथा 16 बिट विंडोज आधारित प्रोग्राम के अनुरूप है तथा दावा तो यह भी किया जा सकता है कि 16 bits  विंडोज प्रोग्राम विंडोज 98/ME/xp  पर ज्यादा अच्छी तरह चलते हैं।

7. Plug and Play Hardware Compatibility – 

यदि आपके पास कोई प्लग और प्ले हार्डवेयर सुविधा है तो विंडोज 95/98/ME/xp  वाली पीसी में इस बहुत आसानी से जोड़ सकते हैं  आपको केवल इतना करना होगा कि उसका कार्ड पीसी में निर्धारित जगह पर लगा दें तथा पीसी की बत्ती चालू करें जैसे या पीसी को ऑन करते हैं विंडोज 95/98/ME/xp नये हार्डवेयर को फौरन पहचान लेते।

8. Integrated Networking Support –

विंडोज 95/98/ME/xp निम्लिखित प्रमुख नेटवर्क विक्रताओ के नेटवर्क को मान्यता देते है।

  1. Microsoft 
  2. Novell
  3. Banyan
  4. Sunsoft

विंडोज 95/98/ME/xp में ऐसी सुविधा उपलब्ध है जिनकी द्वारा आप अपने नेटवर्क में उपलब्ध सभी सुविधाओं और साधन को साझा कर सकते हैं।

9. Easier Mail Facility –

इसमें आपको ईमेल तथा फैक्ट सुविधा में भी उपलब्ध होती है जिनके साथ आप अधिक सुविधा में कम्युनिकेशन कर सकते हैं विंडोज 95/98/ME/xp  में windows 95 के सभी सुविधाएं एवं विशेषताओं उपलब्ध है इसके अतिरिक्त इसमे इंटरनेट पर कार्य करने की सुविधा कराई गई है।

 

विंडोज के साथ कार्य 

विंडोज पर कार्य प्रारंभ करने से पहले यह समझ लेना आवश्यक है कि यह प्रयोगकर्ता के साथ किस तरह संपर्क बनाते हैं कंप्यूटर पर कार्य करने की सरल बनाने के लिए यह हमारे दैनिक जीवन की कार्य प्रणाली की नकल करने की कोशिश करता है।

  • सामान्य तौर पर हम एक मेज, (या डिस्क) फाइल तथा फोल्डर के माध्यम से काम करते हैं जिम दस्तावेज अच्छी तरह व्यवस्थित रहते हैं मेज पर भी काम में आने वाली वस्तु में रखी जाती है जैसे -ब्रीफ कैश, पेन;  पेंसिल, रबर तथा एक रद्दी की टोकरी।
  • विंडोज भी इन सभी वस्तुओं की नक़ल आपकी स्किन पर चित्रों के द्वारा करता है,  इसमें भी सूचनाओं स्टोर करने के लिए फाइलें फोल्डर तथा दस्तावेज होते हैं।
  • इसमें ऐसे प्रोग्राम भी है जिनके द्वारा आप लिख सकते हैं तथा चित्र आदि बना सकते हैं उन क्षेत्रों में रंग भी भर सकते हैं इसी प्रकार विंडो में एक ब्रेक फिर एवं टोकरी की सुविधा भी है अर्थात इन सभी की नकल प्रोग्राम के द्वारा की गई है।
 

विंडोज (Windows) को चलाने के लिए जरूरी हार्डवेयर (Hardware) 

Hardware Requerment of windows – विंडोज (Windows) को चलाने के लिए जरूरी हार्डवेयर (Hardware) की आवश्यकता होती है, जो इस प्रकार से है – 

1. प्रोसेसर (Processor)- विंडो के लिए कम से कम 1.3GHz Pentinum या उच्च शमता (Capacity) वाला प्रोसेसर होना चाहिए। 

2. मैंन मेमोरी (Main Memory) – विंडोज में कम से कम 128GB मेमोरी होना जरूरी है

3. सहायक मेमोरी (Assistant Memory) – इसमे सहायक मेमोरी निम्न है 

  1.    1.44 MB फ्लॉपी ड्राइव (floppy drive) 
  2.     1.2 MB फ्लॉपी डिस्क ड्राइव (floppy disk drive)
  3.     सी डी (CD) डी वी डी (DVD), कम से कम 640MB हार्डडिस्क होना जरूरी है 

4. मॉनिटर (Moniter) – VGA मोनोक्रोम या Color  Display वाला Moniter होना चाहिए।  

5. की-बोर्ड (key board) – 101 keys का keyboard होना चाहिए ।

6. माउस (Mouse) – 2 या 3 बटन वाला माउस होना चाहिए।

 

FAQ

1. Easier Mail Facility क्या है?

    इसमें आपको ईमेल तथा फैक्ट सुविधा में भी उपलब्ध होती है जिनके साथ आप अधिक सुविधा में कम्युनिकेशन कर सकते हैं।

2. विंडोज 95/98/ME/xp  किन नेटवर्क विक्रताओ के नेटवर्क को मान्यता देते है?

   विंडोज 95/98/ME/xp 

  1. Microsoft 
  2. Novell
  3. Banyan
  4. Sunsoft
नेटवर्क विक्रताओ के नेटवर्क को मान्यता देते है। 

 

Conclusion (निष्कर्ष) –

तो दोस्तों, मैंने आपको इस पोस्ट में Window XP (विंडोज एक्सपी) क्या हैं? इसकी विशेषताएं, विंडोज के साथ कार्य,और हार्डवेयर क्या है। के वारे में पूरी जानकारी दी है आशा है कि आपको मेरी ये पोस्ट अच्छी लगी होगी  अगर आपका इस पोस्ट से रिलेटेड कोई सवाल है तो comment बॉक्स में comment करे और  अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे। .

 

 

 

 

Leave a Comment