सिस्टम क्या है? सिस्टम की 7 विशेषताये, तत्व और प्रकार

What is Systm in Hindi – नमस्कार दोस्तों, आज आपको इस पोस्ट में सिस्टम क्या है? सिस्टम की 7 विशेषताये, तत्व और प्रकार (What is Systm, Element, Type) के बारे में आपको पूरी जानकारी देगे। इस पोस्ट मे आपको बहुत ही साधारण simple भाषा में सिस्टम के बारे में बताया जाएगा। किसी सिस्टम का अध्ययन करने के बाद हम यह कह सकते हैं कि एक सिस्टम किसी पहले से निश्चित लक्ष्य को प्राप्त करने की उद्देश्य तैयार किया जाता है। किसी सिस्टम के विभिन्न भागों के मध्य आपसी संबंध व निभरता होती है, किसी सिस्टम के विभिन्न भागों का उद्देश्य मुख्य लक्ष्य को प्राप्त करना होता है ना कि अपने-अपने लक्षण को प्राप्त करना। तो चलिए शुरू करते है।

 

सिस्टम क्या है? (What Is System)

सिस्टम (System) साधारण घटकों का समूह (a set of compoments) है, जो किसी उद्देश को पूरा करने के लिए इंटररेक्ट करता है| सिस्टम  (system) कहीं घटकों (components) से मिलकर बना होता है।

ये सभी (compnents) घटक आपस में जुड़े (link) लिंक रहते हैं और उद्देश्य को पूरा करते हैं सिस्टम के सभी घटकों (components) का अपना कार्य होता है।

जैसे कि कंप्यूटर (computer) एक सिस्टम का उदहारण है जो कई घटकों (components) से मिलकर बना है जैसे कि कीबोर्ड (keyboard), मॉनिटर (Moniter), आदि सभी कंप्यूटर के घटक है।

जो आपस में जुड़े हुए हैं तथा यूजर (user) द्वारा दिए गए इनपुट (input) को आउटपुट ()output के रूप में स्क्रीन पर दिखता है ये सिस्टम कहलाता है।

सिस्टम की 7 विशेषताएं –

सिस्टम की विशेषता निम्नलिखित है आइये जानते है-

  1. सभी सिस्टम (system) के उद्देश (objectives) पहले से ही स्थिर रहते है।  उदाहरण के लिए शिक्षण संस्थाओं का उददेश (object)  युवा पीढ़ी को यौग्य शिक्षक पीढ़ी (Qualified civilized mind) में बदलाव करना है।
  2. सभी सिस्टम (system) आपस में एक दूसरे से संबंध (Intrrelated) और स्वतंत्र घटकों (Independet  components) से मिलकर बनी होती है जैसे- बायोकेमिकल से मिश्रित होता है।
  3. एक सिस्टम दोबारा सबसिस्टम (Subsystem) में विभाजित (subdevided) हो जाता है जिसमें प्रत्येक अपने इन्तेराक्टिंग (interacting) तत्वों को रखते हैं जैसे- एक बिजनेस सिस्टम (business system) को उत्पादन (Producation),  मार्केटिंग (Markting) सब सिस्टम में विभाजित किया जा सकता है।
  4. सबसिस्टम (Subsystem) को भी आगे विभाजित (subdevided) किया जा सकता है| जैसे- एकाउंटिंग (accounting), सबसिस्टम को इन्वेंटरी कंट्रोल  (Inventory control), परोल (payroll), एकाउंट रेसिवेबल (account receviable), और एकाउंट पैयबल (account payable), सब सिस्टम में बिभाजित किया जा सकता है।
  5. एक सिस्टम (system) के विभिन्न घटक (Diffrent components) अपने कार्यों (funcation) को पूरा करने के लिए एक दूजे पर निर्भर होते हैं उदाहरण के रूप में एक घटक को दूर से घटक से अपना कार्य को पूर्ण करने के लिए इनपुट की आवश्यकता हो सकती है।
  6. परस्पर संबंध (interrelated)
  7.  परस्पर निभरता (Interdependence)  के बीच में अवश्य होनी चाहिए।

सिस्टम के तत्व (Elements of System)-

एक सिस्टम (system) का उद्देश्य आउटपुट (output) देना होता है|  सिस्टम (System) इनपुट लेता है, और उसे पर प्रक्रिया (Processing) करके आउटपुट उत्पन्न (Generate) करता है। इनपुट (input) डाटा जब आउटपुट के रूप में अर्थात सूचना (Information) प्रक्रिया (Processing) के लिए बाहर आता है, उसके लिए उसे प्रक्रिया (Processing) में शामिल करना होता है।

आउटपुट (output) को प्राप्त करने के लिए हम इनपुट (input) देते हैं इन इनपुट (input) पर प्रक्रिया (Processing) की जाती है और हमें परिणाम (Reselt) मिलता है।

सिस्टम के तत्व (element of System) के बारे में जानते है विस्तार से –
 

1. इनपुट व आउटपुट (input output) –

किसी भी सिस्टम (system) का आउटपुट (output) यूजर (user) के लिए महत्वपूर्ण होता है किसी भी सिस्टम में इनपुट उसे सिस्टम की आउटपुट के अनुसार ही दिया जाता है किसी सिस्टम की प्रक्रिया (Processing) को पूरा करने के लिए जिन आकडों की आवश्यकता होती है उसे इनपुट (input) कहते हैं और इस प्रक्रिया (Processing) के बाद प्राप्त सूचना को आउटपुट (output) कहा जाता है।

2. प्रक्रिया (Process) –

किसी भी डाटा को प्रक्रिया के बाद सूचना (Information) में बदलना सबसे महत्वपूर्ण कार्य होता है किसी सिस्टम (system) के इनपुट को आउटपुट में बदलने को ही  प्रक्रिया (Process) कहते है।

3. नियंत्रण (Control) –

किसी सिस्टम में प्रक्रिया को नियंत्रण में करने की क्रिया को नियंत्रण (Control) कहते है।

4. पुनर्निवेसन (Feedback) –

जब कोई सिस्टम काम कर रहा होता है तो उसके विवरण के आधार (Base) पर सिस्टम जैसा कोई भी इनफॉरमेशन सिस्टम (Information system) किसी एनालिसिस व यूजर के मध्य मुख्य बातचीत का आधार होता है।

सूचना किसी घटना से अनिश्चित को हटाती है उदाहरण के लिए समुद्री सफर से पहले मौसम दावा किया जानकारी देता है कि आप तूफान आने की कोई संभावना नहीं है तो यह सूचना इस बात को निश्चित करती है की यात्रा में कोई तूफान नहीं आएगा।
 
इनफॉरमेशन सिस्टम कमांड (command), निर्देश (Instrucation) और फीडबैक करता है इन सूचनाओं के मध्य यह यूजर से कम्युनिकेट करने में सहायक होता है।

सिस्टम के प्रकार (Type of System) 

सिस्टम के प्रकार (Type of system) निम्नलिखित हैं-

  1. फिजिकल सिस्टम (physical system)
  2. एब्सट्रैक्ट सिस्टम (Abstract system) 
  3. ओपन सिस्टम (Open system) 
  4. क्लोसड सिस्टम (closed system) 
  5. मैन-मेड सूचना सिस्टम (Main-made information system)
 

1. फिजिकल सिस्टम (physical system) –

 फिजिकल सिस्टम वे विजिबल सिस्टम होते हैं जिन्हें हम देख सकते हैं छू सकते हैं और काउंट कर सकते हैं फिजिकल सिस्टम स्टार या गतिक रूप में ऑपरेट कर सकते हैं उदाहरण के रूप में एक स्टील मिलेंगे कैबिनेट एक तारा फिजिकल सिस्टम है तथा ए आर कंडीशनिंग यूनिट एक गतिशील सिस्टम है।

 2. एब्सट्रैक्ट सिस्टम (Abstract system) –

 एब्सट्रैक्ट सिस्टम (Abstract system)  सिस्टम कॉन्सेप्ट्स गूगल या अननोन फिजिकल सिस्टम की ऐप्स टेक्स्ट कांसेप्चुअल में सम्मिलित है एल्गोरियम भी एक ऐप्स टैक्स सिस्टम का उदाहरण है।

3. ओपन सिस्टम (Open system) –

ओपन सिस्टम एक सिस्टम है जो बाहर की वातावरण में स्वतंत्रता पूर्वक इंटरेक्ट करता है यह सिस्टम वातावरण से इनपुट कर देता है और इसी ही आउटपुट लौटा देता है इस सिस्टम का संबंध वातावरण से होता है इसलिए जब वातावरण परिवर्तित होता है तब सिस्टम आउटडेटेड लेबल्ड हो जाएगा।

4. क्लोसड सिस्टम (closed system) –

क्लोज सिस्टम का आए थे बंद अर्थात क्लोज सिस्टम यह कैसा सिस्टम है जो वातावरण के साथ कोई संबंध नहीं रखता है वातावरण में होने वाली कोई भी परिवर्तन चेंज इसको प्रभावित इफेक्ट नहीं कहते क्लोज सिस्टम बहुत कम होते हैं हमारे दैनिक जीवन लाइफ में ज्यादातर।

 5. मैन-मेड सूचना सिस्टम (Main-made information system) –

 मैन-मेड सूचना सिस्टम (Main-made information system) वह होता है जो की सिस्टम द्वारा किसी भी प्रकार की मैं सूचना को प्रदर्शित करता है तथा यूजर को उसके बारे में पूरी जानकारी प्रोवाइड करता है यह एक सूचना मन में सूचना सिस्टम कहलाती है।

FAQ

1. सिस्टम में प्रक्रिया क्या होती है।
    सिस्टम में प्रक्रिया किसी सिस्टम के इनपुट को आउट में आउटपुट में बदलने को ही प्रक्रिया कहा जाता है।
 
2. सिस्टम पर कितने तत्व होते हैं एलिमेंट ऑफ सिस्टम।
    सिस्टम की चार तत्व होते हैं प्रक्रिया निरंतर बनाने वेतन इनपुट आउटपुट।
 
3. कौन सा सिस्टम पता करने से कोई संबंध नहीं रखता है।
    क्लोज सिस्टम वातावरण के साथ कोई संबंध नहीं रखता है।
 

Conclusion (निष्कर्ष)   

 
तो दोस्तों मैंने आपको इस पोस्ट में सिस्टम क्या है? सिस्टम की 7 विशेषताये, तत्व और प्रकार (What is Systm, Element, Type) के बारे में पूरी जानकारी दी है आशा है कि आपको मेरी ये पोस्ट अच्छी लगी होगी अगर आप कुछ इस पोस्ट से रिलेटेड कुछ जानकारी चाहते है तो आप मुझे comment करे और अपने दोस्तों को शेयर जरूर करे।

Leave a Comment