वर्डपैड (wordpad) क्या है? उपयोग New savings a opening a editing a docoment क्या है1

wordpad in Hindi – नमस्कार दोस्तों, इस पोस्ट में आपको वर्डपैड (wordpad) क्या है? उपयोग New savings a opening a editing a docoment क्या है1 के बारे में आपको पूरी जानकारी देंगे। जो कि कंप्यूटर यूज करने वाले टाइपिंग यूजर के लिए बहुत ही जरूरी होता है। साथ ही इसके बारे में में जानना आपके लिए लिए बहुत ही खास होता है। आजकल लगभग हर काम कंप्यूटर से होता है।

वर्डपैड (wordpad) क्या है? 

wordpad in Hindi – जिस सॉफ्टवेयर या प्रोग्राम के द्वारा डॉक्यूमेंट का निर्माण, एडिटिंग तथा प्रिंटिंग की जाती है उन्हें word processer कहा जाता है window में एक बहुत शक्तिशाली word processer उपलब्ध है जिसे वर्डपैड (wordpad) कहते हैं।

यह वर्ड प्रोसेसर यूजर को एक ही डॉक्यूमेंट में टैक्स और ग्राफिक्स एवं साउंड आदि शामिल करने की अनुमति देता है।वर्डपैड का उपयोग अक्सर नोट्स बनाने, फाइल बनाने तथा सिंपल दस्तावेज बनाने के लिए किया जाता है।

वर्डपैड (wordpad) साधारणता  डॉक्यूमेंट की तरह आप विंडो 98 बी एसपी में भी डॉक्यूमेंट तैयार कर सकते हैं अंतर केवल यह है कि कंप्यूटर के डॉक्यूमेंट मूलत इलेक्ट्रॉनिक रूप में होते हैं इनमें आप टेक्स्ट को कई तरीकों से लगा सकते हैं।

बिंदु में ऐसे डॉक्यूमेंट में चित्र तथा आवाज को भी शामिल करने की सुविधा उपलब्ध कराता है आवश्यकता पड़ने पर डॉक्यूमेंट को प्रिंटर पर छपवाया भी जा सकता है।

वर्डपैड (wordpad) का उपयोग करना –

  • सबसे पहले स्टार्ट बटन को क्लिक कीजिए
  • इससे स्टार्ट मैं खुल जाएगा
  • स्टार्ट मेनू में माउस प्वाइंटर को प्रोग्राम विकल्प पर ले जाइए इससे स्टार्ट मेनू के समीप में प्रोग्राम का सब मेनू खुल जाएगा।
  • इस समय मेनू में एसेसरीज विकल्प पर माउस प्वाइंटर ले जाइए इससे एसेसरीज का सब मेनू खुलेगा।
  • अब आप वर्डपैड (wordpad) को ओपन कर लीजिए।

Wordpad प्रोग्राम प्रारंभ होते ही आपको एक स्क्रीन दिखाई देने लगेगी जिसमें आप कोई भी नया डॉक्यूमेंट बना सकते हैं और कोई भी पुरानी डॉक्यूमेंट फाइल को खोलकर उसे सुधार सकते हैं।

 

वर्डपैड (wordpad) में नया डॉक्यूमेंट बनाना –

वर्डपैड (wordpad) में नया डॉक्यूमेंट बनाने के लिए निम्नलिखित स्टेप को पूरा करना होता है

  1. सबसे पहले wordpad प्रोग्राम को ओपन कर ले।
  2. इसके पश्चात इसके मेनू बार में स्थित file menu पर जाकर क्लिक करें ।
  3. अब इसमें दिए गए विभिन्न ऑप्शन में से न्यू ऑप्शन पर क्लिक करें।
  4. ऐसा करते ही न्यू New का एक डायलॉग बॉक्स दिखाई देने लगेगा।
  5. इसमें दिए गए रिच टैक्स डॉक्यूमेंट (Rich Text Docoment) चुनने के पश्चात ओके ok पर क्लिक करेंगे।
  6. इस तरह से वर्डपैड Wordpad ओपन हो जायेगा।
  7. अब हम अपनी इच्छा अनुसार किसी भी डॉक्यूमेंट को टाइप कर सकते हैं।

 

वर्डपैड (wordpad) की विंडो को 8 भागों में बाटना

Wordpad की विंडो को मुख्यतः 08 भागों में बांटा गया है जो निम्नलिखित है।

  1. Tittle Bar
  2. Menu Bar
  3. Standard Bar
  4. Formatting Bar
  5. Ruler Line
  6. Text Area
  7. Status Bar
  8. Curser

 

तो दोस्तो, अब wordpad के भाग को विस्तार से जानते है।

Tittle Bar –

Wordpad विंडो में सबसे ऊपर की जो  Row इसका टाइटल बार है। इसमें इस प्रोग्राम का नाम दिखाया जाता है। यदि कोई डॉक्यूमेंट खुला हुआ है  तो उसका नाम भी इस बार में बाय कोने में दिखाई देता है अन्यथा डॉक्यूमेंट शब्द दिखाई पड़ता है।

Menu Bar –

टाइटिल बार के ठीक नीचे में मेन्यू बार  Menu Bar होता है। जिसमें कई मेनू नाम शामिल है। प्रत्येक मेन्यू नाम एक पुल डाउन मेनू से संबंधित है जिसमें कई विकल्प होती है जैसे फाइल File ,एडिट edit ,व्यू  view, इनसाइड insert, फॉर्मेट fomat, हेल्प help आदि।

Standard Toolbar –

यह टूलबार सामान्यतया menu bar  के नीचे दिखाई पड़ता है इसमें एक पंक्ति में कई बटन होते हैं जिनमें से प्रत्येक पर एक आइकन होता है इन बट्नों का प्रयोग विभिन्न कार्य करना में किया जाता है।

जैसे – डॉक्यूमेंट खोलना, स्टोर करना, छपवाना आदि  वैसे तो आइकॉन देखने से पता चलता है कि कौन सा बटन किस कार्य के लिए है परंतु जैसे ही माउस काउंटर को किसी बटन पर ले जाते हैं उसके पास ही बटन का नाम दिखाई जाता है।

Formating Toolbar –

स्टैंडर्ड टूलबार के नीचे की पंक्ति में फॉर्मेटिंग टूलबार  Formating Toolbar होता है इसकी सहायता से हम अपने दस्तावेज को सुंदर रूप से फॉर्मेट कर सकते हैं।

यह तीन भागों में बंटा होता है-

  1. यह एक ड्रॉप डाउन लिस्ट (Drop-Down List) है, जिसमें अक्षरों के बहुत से font दिए होते हैं आपको उनमें से एक font चुनना होता है।
  2. यह एक ड्रॉप डाउन लिस्ट (Drop-Down List) है, जिसमें अक्षरों का आकार भरा या चुना जाता है।
  3. इसमे टाइप किए गए पाठ टेक्स्ट को क्रमशः Bold करने, Italic करने, अंडरलाइन Underline करने, रंग या सेट बदलने और बाएं से दाएं पर सेट करना आदि का बटन होता है।

Rular Line –

Format Bar  के ठीक नीचे एक रूलर लाइन होती है इससे आप विभिन्न हास्य देख व सुधार सकते हैं।

Text Area –

विंडो का अधिकांश भाग एक आयताकार बॉक्स के रूप में रूलर लाइन के नीचे होता है इस टैक्स एरिया कहते हैं जो की समग्र डॉक्यूमेंट में टाइप की जाती है।

Status Bar –

यह विंडो में सबसे नीचे एक पतली पट्टी की तरह होती है wordpad द्वारा दिए जाने वाले संदेश इसके बाएं कोने में दिखाई जाते हैं दाये कोने पर दो इंडिकेटर Indicator होते हैं जिनसे कीबोर्ड की क्रमशः कैप्स लॉक (Caps Lock) तथा नामलोक (Num lock) key की स्थिति का पता चलता है।

Cursor –

Text aria में एक खड़ी लकीर (l) के आकार का कर्सर होता है जिससे कीबोर्ड पर टाइप किए जाने वाले अक्षरों या चिन्हों की स्थिति का संकेत मिलता है |

आप तीर के चिन्ह वाले बटन का उपयोग करके उसको फाइल की सीमा में इच्छित स्थान पर ले जा सकते हैं इसी तरह माउस काउंटर को फाइल में कहीं भी क्लिक करके आप कर्सर को एक बार में ही वहां ले जा सकते है।

 

Wordpad में Saving a Docoment 

Wordpad में बनाई गई किसी भी डॉक्यूमेंट को सुरक्षित करने के लिए निम्नलिखित तरीका अपनाना पड़ता है।

Saving a Docoment –

  • मेनू बार में फाइल मेनू पर क्लिक करेंगे
  • इसके बाद से स पर क्लिक करेंगे जिससे इसका डायलॉग बॉक्स स्क्रीन पर दिखाई देगा ।
  • अब फाइल मेनू के बॉक्स में कोई भी नाम भरकर सेव पर click करेंगे
  • ऐसा करते ही हमारी फाइल उसे नाम से सेव सुरक्षित हो जाएगी।

 

Wordpad में Opening a Docoment 

Opening a Docoment –

  • यदि आप पहले से रिस्टोर किए गए डॉक्यूमेंट में कुछ और बदलाव या सुधार करना चाहते हैं तो ऐसा करने के लिए आपको उसे डॉक्यूमेंट को पहले खोलना पड़ेगा इसके लिए आपको दस्तावेज का नाम और वह जिस फोल्डर में है वह भी पता करना होता है डॉक्यूमेंट खोलने के लिए निम्नलिखित है स्टेप को पूरा करना पड़ता है।
  • यदि wordpad पहले से नहीं चल रहा है तो उसे प्रारंभ कीजिए इससे आप wordpad की विंडो में पहुंच जाएंगे।
  • मेनू बार में फाइल को चुनिए फाइल के मेन्यू में ओपन को चुनिए इससे आपको ओपन का डायलॉग बॉक्स एक चित्र की तरह दिखाई देने लगेगा।
  • Look in लिस्ट बॉक्स में फोल्डर का नाम भरिए या उसके तीर के निशान वाले बटन को क्लिक करके फोल्डर का नाम चुनिए ऐसा करने पर आपको कुछ फोल्डर में शामिल सभी डॉक्यूमेंट के नाम बीच में सफेद स्थान में दिखाई देंगे यदि इस सूची में आपकी फाइल का नाम नहीं है तो इसका मतलब है कि यह तो अपने फोल्डर का नाम गलत दिया है या हम फाइल उसे फोल्डर में नहीं है ऐसी स्थिति में आप इन दोनों तथ्यों की जांच कर ली जानी चाहिए।
  • इन Docoment में से किसी भी नाम को जिसको आप खोलना चाहते हैं वह क्लिक कीजिए अभ्यास के लिए आप उपाय दिए गए चित्र में डॉक्यूमेंट का नाम माय फर्स्ट डॉक्युमेंट इन वर्डपैड  (My First docoument in wordpad) को क्लिक कीजिए
  • अब ओपन बटन को क्लिक कीजिए ऐसा करते ही आप देखेंगे कि यह डॉक्यूमेंट वर्डपैड की विंडो में दिखाई पढ़ने लगा है तथा इसका नाम टाइटल बार में भी आ गया है।

 

Wordpad में Editing a Docoment 

Editing a docoment –

Wordpad में किसी docoument में भारी गई टेक्स्ट को कई प्रकार से अलग-अलग फोंट तथा अलग-अलग साइज में बदलने की सुविधा भी उपलब्ध है जिसके द्वारा आप अपने डॉक्यूमेंट को और अधिक आकर्षक बना सकते हैं।

इसके लिए सबसे पहले अपने डॉक्यूमेंट को खोलकर उसमें स्पेलिंग आदि की सभी गलतियों को ठीक कर सकते हैं अब आपको आकर्षक बनाने के लिए तैयार हो जाइए।

wordpad में टेस्ट का रूप आकार शैली आदि बनाने की क्रिया Text Blocks पर की जाती हैं कोई भी Text Blocks किसी भी डॉक्यूमेंट में लगता है | टेक्स्ट का एक टुकड़ा या भाग होता है यह Text Blocks किसी भी पैराग्राफ का एक अक्षर या एक शब्द या एक पंक्ति भी हो सकती है तथा कई पैराग्राफ में फैला भी हो सकता है Text Blocks को Select Text भी कहते हैं।

किसी टैक्स को सुधारना उभरने आदि क्रियो में Text Blocks बहुत उपयोगी होता है इससे आप Text Blocks में शामिल सभी अक्षरों तथा चोन पर एक जैसी क्रिया एक साथ कर सकते हैं।

आप जो भी क्रिया करने का आदेश देंगे वह पूरे Text Blocks पर लागू होगा किसी टैक्स ब्लॉक को पूरा एक साथ किसी दूसरे स्थान पर ले जाना उसकी नकल करना या हटा देना भी संभव है।

 

Text Blocks बनाने की प्रक्रिया

  • Wordpad में Text Aria में दिखाई पड़ने वाली खड़ी लकीरें (l) अर्थात कर्सर को बनाए जाने वाले Text Blocks के शुरुआती बिंदु पर क्लिक करके पहुंच इस खड़ी लंबी लकीर को I-beam-Pointer या केवल Pointer कहा जाता है यह कर्सर की तरह कार्य करता है।
  • अब पॉइंटर को ब्लॉक के अंत के बिंदु पर ले जाइए इसके लिए Text Blocks के प्रारंभ बिंदु पर माउस बटन को दबाकर अंतिम बिंदु पर आने तक पड़े रखिए।
  • अंतिम बिंदु पर आकर माउस बटन को छोड़ दीजिए।
  • आप देखेंगे कि दोनों बिंदुओं के बीच बना हुआ Text Blocks उल्टी रंग में दिखाई पड़ रहा है अब आप जो भी क्रिया करने का आदेश देंगे वह इसी Text Blocks पर लागू होगा किसी Text Blocks करने की इस प्रक्रिया को टैक्स सिलेक्शन भी कहा जाता है।
  • यदि आपने बनी हुई Text Blocks को खत्म करना चाहते हैं तो डॉक्यूमेंट के पूरे भाग में कहीं भी माउस क्यों एक बार क्लिक कर दीजिए इससे Text Blocks का भाग सामान्य रूप में आ जाएगा और टैक्स ब्लॉक समाप्त हो जाएगा और Text Blocks बना हुआ ना होना पर ब्लॉक क्रिया नहीं की जा सकती है।

 

FAQ

1.Wordpad प्रोग्राम प्रारंभ होते ही हम क्या कम कर सकते है ?

Wordpad प्रोग्राम प्रारंभ होते ही आपको एक स्क्रीन दिखाई देने लगेगी जिसमें आप कोई भी नया डॉक्यूमेंट बना सकते हैं और कोई भी पुरानी डॉक्यूमेंट फाइल को खोलकर उसे सुधार सकते हैं।

2. wordpad में editing कहा होती है ?

wordpad में editng editing a docoument नामक option से कर सकते है।

3. इस खड़ी लंबी (l) लकीर को क्या कहा जाता है ?

इस खड़ी लंबी (l) लकीर को I-beam-Pointer या केवल Pointer कहा जाता है।

 

Conclusion (निष्कर्ष) –

तो दोस्तों आज आपने इस पोस्ट के माध्यम से  वर्डपैड (wordpad) क्या है? उपयोग New savings a opening a editing a docoment क्या है1 के बारे में अच्छे से जाना और समझा होगा आशा है कि आपको मेरी ये पोस्ट अच्छी लगी होगी और हेल्पफुल रही होगी ऐसी ही पोस्ट को पढने के लिए आप मेरे ब्लॉग पोस्ट से जुड़े रहे और अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करे।

 

 

Leave a Comment