कंप्यूटर में 14 इनपुट, 05 आउटपुट डिवाइस क्या होती है।

नमस्कार दोस्तों इस में आपको कंप्यूटर में 14 इनपुट, 05 आउटपुट डिवाइस क्या होती है। के बारे में पूरी जानकारी देगे और निर्देश कंप्यूटर में जिस यूनिट से एंटर किया जाता है, वह इनपुट यूनिट होती है। इनपुट यूनिट में कीबोर्ड उपयोग किया जाता है। जो ऑफ़लाइन इनपुट डिवाइस के उपकरण होते हैं। जो कंप्यूटर से सीधे यूजर से संपर्क करते हैं। और जो कंप्यूटर के साथ काम करते हैं। उसमे आउटपुट डिवाइस का यूज सबसे ज्यादा किया जाता है।

कंप्यूटर में 14  इनपुट डिवाइस (input device) कौन कौन सी है

Computer में बहुत सारी इनपुट डिवाइस होती है जिसका यूज किए बिना यूजर कुछ भी नही कर सकता है क्या कि इससे कम्प्यूटर में इनपुट किया जाता है तभी वह वर्क कर पाता है जैसे: माउस, कीबोर्ड, स्कैनर आदि।

  1. की बोर्ड (keyboard)
  2. माउस (mouse)
  3. स्कैनर (scanner)
  4. लाइट पेन (Light pen)
  5. ओ.सी.आर. (OCR)
  6. एम.आई.सी.आर. (MICR)
  7. ट्रैकर बाल (Tracker Ball)
  8. जॉयस्टिक (joystick)
  9. डिजिटाईजर टैबलेट (Digitiger tablet)
  10. डिजीटल कैमरा (Digital camera)
  11. ओ.बी.आर. (OBR)
  12. वॉइस रिकज्नाइजर (voice Recognizar)
  13. टच स्क्रीन (Touch screen)
  14. ओ.एम.आर. (OMR)

 

1. की बोर्ड (keyboard)

कीबोर्ड एक इनपुट डिवाइस है,जो इलेक्ट्रोनिक टाइपराइटर के कीबोर्ड की तरह होता है। आज कल 101 key वाले कीबोर्ड प्रयोग किए जाते है। इसमें A से Z तक के अक्षर, 0 से 9 तक संख्या और F1 से F12 तक फंसन की होती है, इसके अलावा कुछ कमांड की भी होती है। यह इनपुट डिवाइस है। 

  • टाइपराइटर की (Typeriter key)
  • फंशन की (function key)
  • कर्सर की (aero key)
  • पेज अप और पेज डाउन की (page up and page down key)
  • होम और एंड की (Home and End key)
  • कैप्स लॉक की (caps lock key)
  • शिफ्ट की (shift key)
  • न्यूमेरिक की पैड ( Newmeric key paid)
  • टैब की (Tab key)
  • एंटर की ( Enter key)
  • पास की (pause/Break key)
  • एस्केप की (Escape key)
  • कंट्रोल की (control key)
  • ऑलटी की (Alt key)
  • प्रिंट स्कैन की (print scan key)
  • डिलीट की (Delete key)
  • बैक स्पेस (Backspace key)
  • इंसर्ट की (insert key)
  • स्टेट्स इंडीगेटर (curser)
 

2. माउस (mouse)

Computer को तेज गति से चलने के लिए आजकल विंडो आधारित प्रोग्राम प्रयोग किए जा रहे है, जिन्हे माउस द्वारा संचालित किया जाता है। यह एक इनपुट डिवाइस है।
कंप्यूटर माउस का आविष्कार डॉक्टर डगलस एंजल बर्ट ने सन् 1964 में किया था। यह माउस लकड़ी से पूरी तरह कवर्ड था। इसमें एक ही बटन लगा हुआ था।
बर्ष 1983 में APPLE ने और सन् 1987 में IBM ने इस डिवाइस को अपनाया था।
वर्तमान में तीन तरह के माउस प्रयोग किए जा रहे है जो निम्न लिखित है: 

1. मैकेनिकल माउस (Mechinical Mouse)
2. ऑप्टिकल माउस (Optical Mouse)
3. कार्डलेश माउस (Cardless Mouse)

3. स्कैनर (scanner)

 
किसी चित्र या फोटोग्राफ या डॉकमेंट को कंप्यूटर में इनपुट करने के लिए स्कैनर का प्रयोग किया जाता है। 
जिस प्रकार फोटोस्टेट मशीन काम करती है, उसी प्रकार स्कैनर काम करता है। स्कैनर एक इनपुट डिवाइस है।
 
1. हैंडी स्कैनर (Handy Scanner)
2. डेस्कटॉप स्कैनर (Desktop Scanner)
 

4. लाइट पेन (Light pen)

यह एक पेन के जैसा होता है। जिसे स्क्रीन पर घुमाकर कंप्यूटर में डायग्राम बनाने के काम में लाते है। यह एक इनपुट डिवाइस है।

यह आर्टिस्ट के लिए उपयोगी उपकरण है। इसके द्वारा मॉनिटर की स्क्रीन पर चित्र बना सकते है और खींची गई आकरती को मिटाकर सुधार भी सकते है।

5. ओ.सी.आर. (OCR)

OCR (Optical Character Reader) एक ऐसा उपकरण है जो दस्तावेज़ को पढ़ने के काम में आता है।
इसके द्वारा हम हाथ से लिखी हुई हैंडराइटिंग को चैक करते है। तथा इसके द्वारा हाथ से किए गए सिगनेटर को भी चेक किया जाता है।

 

6. एम.आई.सी.आर. (MICR)

 
इसमें एक विशेष प्रकारबकी इंक का प्रयोग किया जाता है। जो चुंबिकीय पदार्थ से बनी हुई होती है।
इसका उपयोग बैंक में चैक पढ़ने के काम में किया जाता है। 
एम. आई. सी. आर. के पढ़ने की गति 2400 दस्तावेज प्रति मिनिट है। इसके अक्षर विशेष आकर में छपे रहते है।
 

 7. ट्रैकर बाल (Tracker Ball)

  • ट्रैकर बाल एक प्वाइंटिंग इनपुट डिवाइस है, को माउस की तरह ही काम करता है। ट्रैकर बाल एक उल्टे माउस की तरह ही होते है। माउस में बाल नीचे लगी होती है जबकि ट्रैकर बाल में बाल ऊपर लगी होती है।
  • माउस में लगी बाल की तरह ही ट्रैकर बाल चारों तरफ घूमती है।
  • लैपटॉप कंप्यूटर में भी ट्रैकर बाल लगी हुई होती है। इसमें ऊपर की ओर एक गेंद तथा बटन होते है।
  • ट्रैकर बाल कई मॉडल में आती है। यह बड़ी तथा छोटी गेंद और दो तथा तीन बटन में आती है।

8. जॉयस्टिक (joystick)

  • इस इनपुट डिवाइस का उपयोग गेम खेलने में किया जाता है। 
  • जॉयस्टीक के द्वारा स्क्रीन पर उपस्थित आकृति को इसके हैंडल से पकड़कर चलाया जाता है। 
  • इसका उपयोग बच्चों द्वारा गेम खेलने में किया जाता है। जॉयस्टिक की मदद से कंप्यूटर पर तेज गति से गेम खेले जा सकते है।

 

9. डिजिटाईजर टैबलेट (Digitiger tablet)

इस टैबलेट को ग्राफिक टैबलेट भी कहते है। ग्राफिक टैबलेट एक ड्राइंग सतह होती है।
इसके ऊपर एक पेन या माउस होता है।
जिसका प्रयोग हाथो द्वारा प्रिंटिड कैरेक्टर को सीधे कंप्यूटर में भेजने में किया जाता है।

 10. डिजीटल कैमरा (Digital camera)

डिजीटल कैमरा एक ऐसा मोबाइल इनपुट डिवाइस है, जो की किसी भी फोटो, चित्र. को रिकॉर्ड करता है।
इसके माध्यम से हम दृश्य को स्टोर करते समय उस दृश्य को कैमरे की स्क्रीन पर भी देख सकते है।
डिजीटल कैमरा बहुत छोटे आकार का इनपुट डिवाइस है, जिसको एक स्थान से दूसरे स्थान तक आसानी से ले जाया जा सकता है।

 

11. ओ.बी.आर. (OBR)

ऑप्टिकल बार कोड रीडर का मुख्य कार्य वर्टिकल बार को जो कि अलग अलग डाटा के लिए निश्चित होता है स्कैन करने का होता है। ऑप्टिकल बार कोड रीडर ( Optical Bar Code Reader) द्वारा टैंगो को पढ़ा जाता है

जो कि जिओपिंग सेंटर में विभिन्न उत्पादों में दबाईओ के पैकट पर पुस्तकों के आवरण आदि पर छपे रहते है। ऑप्टिकल बार कोड रीडर ( Optical Bar Code Reader) को बार कोड के ऊपर से निकलते है तो,

यह इस पर छपी हुई सूचना को कंप्यूटर में प्रविष्ट कर देता है।

 

12. वॉइस रिकज्नाइजर (voice Recognizar)

वॉइस रिकज्नाइजर (voice Recognizar) तकनीक के माध्यम से डाटा इनपुट में होने वाली परेशानी को दूर किया जा सकता है तथा यह तकनीक कंप्यूटर यूजर को डाटा इनपुट में सहायता प्रदान करती है।
वॉइस रिकज्नाइजर (voice Recognizar) तकनीक में कुछ समस्या भी है, जैसे कि जब डाटा बोलकर इनपुट किया जाता है तो इस समय कंप्यूटर यह परखता है कि कौन बोल रहा है, तथा संदेश क्या है।
अधिकतर वॉइस रिकज्नाइजर (voice Recognizar) सिस्टम स्पीकर पर निर्भर होते है। परन्तु आज कल सिस्टम जो कि स्पीकर पर निर्भर नहीं है, सारे शब्दों को पहचान लेता है। चाहे वो किसी भी यूजर द्वारा कहे गए हो।

 

13. टच स्क्रीन (Touch screen)

  • वर्तमान समय में इस तकनीक का प्रयोग अपनी आवश्कता के अनुसार सूचनाओं को देखने में किया जाता है।
  • सारे टच स्क्रीन (Touch screen) टर्मिनल एक सेंसटिव (Screen) रखते है, जिनमे एक की बोर्ड होता है तथा वह डाटा को इनपुट कराने की अनुमति प्रदान करता है। 
  • (Touch screen) का प्रयोग करने के लिए किसी जानकार या अनुभवी कंप्यूटर ऑपरेटर की जरूरत नहीं होती है। 
  • जब हम अपनी उंगली द्वारा किसी कमांड को छूते है तो, वह कमांड क्रियान्वित हो जाती है और हम चाही गई सूचना को मॉनिटर पर देख सकते है।
 

14. ओ.एम.आर. (OMR)

  • ऑप्टिकल मार्क रीडर एक ऐसी डिवाइस है,जो किसी कागज पर पेंसिल या पेन की उपस्थिति और अनुउपस्थिति को जांचता करता है।
  • इसमें चिन्हित कागज पर प्रकाश डाला जाता है और परावर्तित प्रकाश को जांचा जाता है। जहा पर चिन्ह उपस्थिति होगा, कागज के उस भाग से परावर्तित प्रकाश की तीव्रता काम होगी।
  • यह डिवाइस केवल छपे हुए कार्ड या फॉर्म पर निश्चित स्थानों पर बने बॉक्स और पेंसिल से भरे बॉक्स को जाँचता है। 
  • यह जिन exam में प्रश्न पत्र वैकल्पिक होते है और स्टूडेंट को 4 विकल्पों में से अंतर छटकर बॉक्स पेंसिल से भरना होता है उस exam की उत्तर पुस्तिका को जांचने के लिए ओ.एम.आर. ( OMR) बहुत जरूरी डिवाइस है। 
 

कंप्यूटर की मुख्य आऊटपुट डिवाइस (output device)

Computer में बहुत सारी इनपुट डिवाइस होती है जिसका यूज किए बिना यूजर कुछ भी नही कर सकता है क्यू  कि इससे कम्प्यूटर में इनपुट किया जाता है तभी वह वर्क कर पाता है जैसे: मॉनिटर, प्रिंटर,स्पीकर आदि।

 

1. मॉनिटर (moniter)
2. प्रिंटर (printer)
3. प्लोटर (plotter)
4. साउंड कार्डस (sound cards)
5. स्पीकर्स (speeker)

 

1. मॉनिटर (moniter)

मॉनिटर देखने में पोर्टेबल टी.व्ही. जैसा होता है। फीड किया गया डाटा हमे मॉनिटर की स्क्रीन पर दिखाई देता है। मॉनिटर को (V.D.U) विजुअल डिस्प्ले यूनिट भी कहा जाता है। टेलीविजन के समान ही मॉनिटर पर Brightness और कलर को बदलने वाले बटन होते है। मॉनिटर की एक केबल Cpu ke पीछे सॉकेट में लगी रहती है, जिससे Cpu ya मॉनिटर में सूचनाओं का आदान प्रदान होता रहता है, यह एक आउटपुट डिवाइस है। 

सामान्यत मॉनिटर 2 प्रकार के होते है।

1. कलर मॉनिटर  (color monitor)

2.मोनोक्रोम मॉनिटर (Monochrome Monitor) 

 

2. प्रिंटर (printer)

प्रिंटर एक आउटपुट डिवाइस है। प्रिंटर से डाटा प्राप्त कर उसे पेपर पर प्रिंट कर देता है, जिससे हम हार्ड कॉपी प्राप्त कर सकते है।

प्रिंटर से हम अपनी मनपसंद के dococomet को अपने हिसाब से प्रिंट कर सकते है  जिससे हम अपने जरूरत के हिसाब से अपने किसी भी काम में ला सकते हैं

तथा उसे हम अपनी मॉनिटर स्कीन पर देखकर अपनी डिसीजन से डिजाइन भी करके प्रिंट कर सकते है।

 

3. प्लोटर (plotter)

 

इंजीनियरिंग डिजाइन जैसे बड़े आकार के डॉकोमेंट को कागज पर प्रिंट करने के लिए ग्राफिक प्लॉटर का प्रयोग किया जाता है। यह बहुत ही अच्छी ड्राइंग बनाने के काम में आता है। 

 

Plotter सामान्यत 2 प्रकार के होते है।

1. ड्रम पेन प्लाटर

2. फ्लैट बेड plotter

 

4. साउंड कार्डस (sound cards)

 
  1. कंप्यूटर में साउंड कार्ड का प्रयोग किसी प्रोग्राम या गेम्स के संदेश को सुनने के लियेवकिया जाता है। 
  2. यदि आप साउंड आउटपुट चाहते है, तो आप मशीन से जोड़कर प्राप्त कर सकते है। यह डिवाइस साउंड कार्ड कहलाता है, जो की मशीन में फ्री स्लॉट, प्रवेश के माध्यम से जोड़ा जाता है। 
  3. एक साउंड कार्ड को install करने से पहले यह ध्यान रखना चाहिए कि वह किसी दूसरी डिवाइस जो की कंप्यूटर में पहले से ही न जुड़ी हो।
  4. साउंड कार्ड का instalattion प्रोग्राम कुछ डिफॉल्ट सेटिंग की मांग करता है, जिससे की हमे कंप्यूटर के आधार पर कुछ परिवर्तन किए जा सके।

 

5. स्पीकर्स (speeker)

 
  • स्पीकर एक ऐसा डिवाइस होता है, जिसके माध्यम से हम एक मल्टीमीडिया  कंप्यूटर सिस्टम के सारे प्रोग्रामो की आवाज , संगीत आदि को आसानी से सुन सकते है। 
  • स्पीकर भी आउटपुट डिवाइस है, जो किसी प्रोग्राम का आउटपुट हमे साउंड के रूप में प्रदान करता है। 
  • स्पीकर के माध्यम से हम संगीत, चलचित्र तथा गेम की अलग अलग आवाज का आनंद प्राप्त कर सकते है।

 

FAQ’s

 

1. कंप्यूटर में प्रिंट किस प्रकार की डिवाइस से दिया जाता है।

     कंप्यूटर में प्रिंट आउटपुट डिवाइस प्रिंटर से दिया जाता है।

 

2. कंप्यूटर में स्पीकर क्या होता है और कौन सी डिवाइस है।

      कंप्यूटर में स्पीकर से वीडियो ऑडियो आदि की आवाज को सुन सकते है। और यह एक आउटपुट है।

3. कंप्यूटर में joystic किस लिए उसे प्रयोग किया जाता है।
      कंप्यूटर में joystic गेम खेलने के लिए किया जाता है।

4. कंप्यूटर में किस डिवाइस द्वारा आवाज रिकॉर्ड की जा सकती है।
   कंप्यूटर में आवाज रिकॉर्ड voice recoginer द्वारा की जाती है । यह एक इनपुट डिवाइस है।

     

Conclusion  (निष्कर्ष):

कंप्यूटर से लगभग आधे से ज्यादा काम किए जा सकते है क्यों कि कंप्यूटर घंटों के काम कुछ ही मिनटों में आसानी से कर सकता है। मैने आपको इस पोस्ट के माध्यम से आपको कंप्यूटर में 14 इनपुट, 05 आउटपुट डिवाइस क्या होती है। की जानकारी दी है। आप फिर भी कुछ भी पूछना चाहते है तो आप हमे कॉमेंट कर सकते है। आप मेरी इस पोस्ट को ज्यादा से ज्यादा अपने दोस्तो में शेयर करे। और मुझे comment करके बताए कि आपको ये पोस्ट कैसी लगी।

 

 

 

Leave a Comment